कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

प्रसिद्ध अकादमिक राम पुनियानी को अज्ञात गुंडों ने फोन पर दी धमकी, ‘हिंदू विरोधी’ गतिविधियों को रोकने की चेतावनी

प्रोफेसर राम पुनियानी ने इस मामले को लेकर मुंबई पुलिस के पास एफआईआई दर्ज करवाई है.

प्रसिद्ध अकादमिक और आई.आई.टी बंबई के पूर्व प्रोफेसर राम पुनियानी को अज्ञात गुंडों द्वारा धमकी मिलने और जान को खतरा होने का मामला प्रकाश में आया है.

राम पुनियानी को 6 जून को अज्ञात लोगों ने फोन पर धमकी दी और उनके साथ दुर्व्यवहार किया. उन्होंने इस मामले को लेकर मुंबई पुलिस के पास एफआईआई दर्ज करवाई है.

राम पुनियानी तर्कवादी चिंतन और सांप्रदायिक सद्भावना  के लिए लगातार अभियान करते रहे हैं.

सबरंग की ख़बर के अनुसार उन्हें पहला कॉल लैंडलाइन पर तकरीबन 8:30 बजे आया था. फोन पर अज्ञात लोगों ने अपमानजनक भाषा का प्रयोग करते हुए उनपर हिंदू विरोधी होने का आरोप लगाया. अज्ञात गुंडों ने धमकी देते हुए कहा कि राम पुनियानी 15 दिनों के भीतर अपनी गतिविधियों पर रोक लगाने की चेतावनी दी वरना उन्हें अंजाम भुगतने की धमकी दी है.

सबरंग इंडिया  से बात करते हुए, प्रोफेसर राम पुनियानी ने कहा, “यह बहुत चिंतित और परेशान करने वाला है. मेरा परिवार मेरी सुरक्षा को लेकर परेशान है. मुझे उम्मीद है कि अधिकारी इस मामले को गंभीरता से लेंगे. ऐसा पहली बार नहीं हुआ, जब मुझे इस तरह की धमकी मिली  है.”

इससे पहले इसी साल मार्च में प्रोफेसर राम पुनियानी को धमकी दी गई थी. कथित तौर पर कुछ पुलिसकर्मियों ने सादा कपड़ों में उनके घर आकर उनके पासपोर्ट संबंधित पूछताछ की थी. हालांकि इस तरह की पूछताछ आमतौर पर वर्दी वाले पुलिसकर्मी करते हैं. ग़ौरतलब है कि देशभर में इस प्रकार की घटनाएं सामाजिक कार्यकर्ताओं की सुरक्षा को लेकर गंभीर सवाल खड़े करते हैं.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+