कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

रिपोर्टः 5 सालों में मालामाल हुए भाजपा के कई सांसद, दोगुना तक बढ़ी संपत्ति

भाजपा के 72 सांसदों की संपत्ति में औसतन 7.54 करोड़ रुपए का उछाल आया है.

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले सांसदों की संपत्ति संबंधी बड़ा खुलासा सामने आया है. साल 2014 में दोबारा चुने गए 153 सांसदों की संपत्ति में 142 प्रतिशत का इजाफा दर्ज किया गया है. इलेक्शन वॉच एंड एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक इस सूची में सबसे ज्यादा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों के नाम शामिल हैं.

एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार पांच सालों में (साल 2009 से 2014) के बीच 153 सांसदों की औसत संपत्ति में 7.81 करोड़ रुपए की वृद्धि हुई है. यह रिपोर्ट स्वतंत्र सार्वजनिक शोध समूहों के 2014 में दोबारा चुने गए 153 सांसदों की तरफ से सौंपे गए वित्तीय विवरणों की तुलना के आधार पर तैयार की गई है.

एबीपी न्यूज़ की ख़बर के अनुसार इस अध्ययन में पाया गया कि दोबार निर्वाचित सांसदों की औसत संपत्ति साल 2009 में 5.50 करोड़ रुपए थी, जो 5 सालों में दो गुना से भी ज्यादा बढ़कर लगभग 13.32 करोड़ रुपए पहुंच गई है. जिन सांसदों की संपत्ति में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ है उनमें भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, बीजद सांसद पिनाकी मिश्रा और एसीपी सांसद सुप्रिया सुले शामिल है.

साल 2009 में शत्रुघ्न सिन्हा की संपत्ति लगभग 15 करोड़ रुपए थी जो साल 2014 में 131 करोड़ रुपए हो गई. दूसरी ओर बीजू जनता दल के सांसद पिनाकी मिश्रा की संपत्ति 107 करोड़ रुपए से बढ़कर 137 करोड़ रुपए पहुंच गई है. वहीं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले की संपत्ति 51 करोड़ रुपए से बढ़कर 113 करोड़ रुपए हो गई है.

संपत्ति में वृद्धि के मामले में भाजपा सांसद वरुण गांधी 10 वें पायदान पर मौजूद हैं. साल 2009 में वरुण गांधी ने अपनी संपत्ति 4 करोड़ रुपए घोषित की थी, जो 2014 में बढ़कर 35 करोड़ हो गई. रिपोर्ट के अनुसार के पार्टी स्तर पर भाजपा के 72 सांसदों की संपत्ति में औसतन 7.54 करोड़ रुपए का उछाल आया है.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+