कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

गुजरात: पुलिस ने 2 दिनों के भीतर PUBG खेल रहे 10 लोगों को किया गिरफ़्तार

ऑनलाइन गेम पबजी को भारत के कई शहरों में प्रतिबंधित किया गया है.

गुजरात के राजकोट में पुलिस ने मोबाइल गेम पबजी खेलने पर दो दिनों में 10 लोगों को गिरफ़्तार किया है. इनमें से 6 लोग अंडर ग्रेजुएट स्टूडेंट्स हैं. दरअसल राजकोट में पबजी गेम पर प्रतिबंध की अधिसूचना जारी की गई थी. जिसका उल्लघंन करने पर पुलिस ने 1 हफ्ते बाद ये गिरफ़्तारियां की हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के अनुसार पुलिस आयुक्त मनोज अग्रवाल ने 6 मार्च को अधिसूचना जारी करते हुए पबजी गेम पर प्रतिबंध लगा दिया था. उन्होंने बताया कि अब तक 12 मामले दर्ज किए गए हैं. लेकिन यह एक जमानती अपराध है. लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. लेकिन इसमें गिरफ़्तारी जैसा कुछ नहीं है. उन्हें तुंरत जमानत मिल जाएगी. ये मामले अदालतों में जाएंगे और वहां अधिसूचना का पालन नहीं करने के लिए ट्रायल चलेगा.

बीते बुधवार को राजकोट स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप ने पुलिस मुख्यालय के पास तीन युवकों को गिरफ़्तार किया था.

एसओजी पुलिस इंस्पेक्टर रोहित रावल ने कहा कि हमारी टीम ने इन युवाओं को गेम खेलते रंगे हाथों पकड़ा. जिसके लिए उन्हें हिरासत में लिया गया. राजकोट पुलिस ने पुलिस कमिश्नर द्वारा जारी अधिसूचना का उल्लघंन करने के लिए आईपीसी धारा 188 के तहत 2 मामले दर्ज किए हैं. वहीं गुजरात पुलिस अधिनियम के तहत प्रतिबंध के बावजूद पबजी खेलने के लिए पुलिस ने धारा 35 के तहत 10 लोगों को गिरफ़्तार किया है.

रावल ने आगे कहा कि यह खेल नशे की लत है. आरोपी खेल को खेलनें में इतने व्यस्त थे कि उन्हें यह ध्यान नहीं था कि हमारी टीम उनके पास पहुंची है. पुलिस ने उनके फोन जांच के उद्देश्य से जब्त किए हैं.

न्यूज़सेंट्रल24x7 को योगदान दें और सत्ता में बैठे लोगों को जवाबदेह बनाने में हमारी मदद करें