कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

कश्मीरी लड़कियों के सम्मान की रक्षा करना सिखों का धार्मिक कर्तव्य, अभद्र टिप्पणियां क्षमा योग्य नहीं- अकाल तख्त

“भगवान ने सभी लोगों को एकसमान अधिकार दिए हैं. इसलिए किसी व्यक्ति के साथ लिंग, जाति और धर्म के आधार भेदभाव करना अपराध है.”

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 में संशोधन किए जाने के बाद कुछ राजनेताओं समेत सोशल मीडिया पर कई लोग कश्मीरी लड़कियों को लेकर अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं. जिसे लेकर अकाल तख्त के जत्थेदार ने बीते शुक्रवार को सिख समुदाय से अपील करते हुए कहा कि सिखों को कश्मीरी लड़कियों के सम्मान की रक्षा करने के लिए आगे आना चाहिए. यह उनका धार्मिक कर्तव्य है.

द इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के अनुसार सिखों की सबसे बड़ी संस्थाओं में आने वाले अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने कहा, “भगवान ने सभी लोगों को एकसमान अधिकार दिए हैं. इसलिए किसी व्यक्ति के साथ लिंग, जाति और धर्म के आधार भेदभाव करना अपराध है. धारा 370 में संशोधन होने के बाद सोशल मीडिया पर कश्मीरी लड़कियों को लेकर जिस तरह की टिप्पणियां हो रही हैं वह क्षमा करने योग्य नहीं है.”

किसी का नाम लिए बगैर उन्होंने आगे कहा, “जिस तरह कुछ लोग कश्मीर की बेटियों की तस्वीर सोशल मीडिया में पोस्ट कर रहे हैं. यह भारत की छवि को नुकसान पहुंचा रहा है. महिलाओं के लिए ऐसी टिप्पणियां आपत्तिजनक है. ये लोग भूल गए हैं कि एक महिला किसी की मां, बेटी, बहन और पत्नी है. यह वो महिलाएं हैं जिनके पास सृजन की शक्तियां हैं.”

उन्होंने किसी व्यक्ति या समुदाय का नाम लिए बिना कहा, “कश्मीरी महिलाओं को निशाना बनाने वाली भीड़ उसी तरह प्रतिक्रिया कर रही है जिस प्रकार 1984 दंगो के दौरान सिख महिलाओं के ख़िलाफ़ की गई थी. कश्मीरी महिलाएं हमारे समाज का हिस्सा हैं. कश्मीरी महिलाओं के सम्मान की रक्षा के लिए सिखों को आगे आना चाहिए. यह हमारा कर्तव्य है और हमारा इतिहास है.”

वहीं दूसरी ओर दिल्ली के एक सिख कार्यकर्ता हरमिंदर सिंह अहलूवालिया ने महाराष्ट्र में फंसी लड़कियों की मदद के लिए 4 लाख रुपए दिए हैं. यह पैसे लड़कियों के टिकट के लिए दिए गए थे.

ग़ौरतलब है कि मोदी सरकार द्वारा धारा 370 में संशोधन किए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर को मिला विशेष राज्य दर्जा खत्म हो गया है. जिसके बाद से सोशल मीडिया पर कश्मीरी लड़कियों से शादी करने और वहां ज़मीन खरीदने को लेकर भद्दी प्रतिक्रियां सामने आ रही हैं.

इसे भी पढ़ें- कश्मीरी लड़कियों पर घिनौना है हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्टर का बयान, RSS की ट्रेनिंग को दर्शाती है ये मानसिकता: राहुल गांधी

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+