कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

अमर उजाला ने IAF हमला दिखाते हुए किया 2014 के US हवाई हमले की तस्वीर का इस्तेमाल

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

5 मार्च को अमर उजाला ने एक रिपोर्ट “बालाकोट: मदरसा छात्र ने बताया- रात को हुआ था जबरदस्त धमाका, पाकिस्तानी सेना ने हमें बचाया” शीर्षक से प्रकाशित किया. इस लेख के साथ एक इमारत पर लक्ष्य का निशान वाली एक तस्वीर भी थी जिसमें नीचे लिखा था, “वायुसेना का टारगेट”.

सीरिया पर अमेरीकी हवाई हमले (2014) की तस्वीर

अमर उजाला के लेख के साथ दी गई तस्वीर, सितंबर 2014 में ISIS को निशाना बनाने वाले एक अमरीकी हवाई हमले से संबंधित है. डेली मेल द्वारा 4 अक्टूबर 2014 को प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, “इन हमलों के निशाने पर खोरासन ग्रुप के लड़ाके थे, जिसे अमरीकी सरकार अल कायदा दिग्गजों का एक सेल मानती है और जिन्होंने अफगानिस्तान-पाकिस्तान की सीमा क्षेत्र से निकलकर सीरिया को अपना ठिकाना बनाया था.” लेख से संबंधित उस तस्वीर के नीचे कैप्शन लिखा था, “हमला : सितंबर में अमेरीकी नेतृत्व वाली गठबंधन फौजों ने, इराक और सीरिया के इलाकों पर कब्जा जमाए अतिवादी इस्लामी समूह आईएसआईएस, जिन्हें कम प्रचलित रूप से खोरासन समूह के नाम से भी जाना जाता है, के सदस्यों के खिलाफ सीरिया में हवाई हमले शुरू किए.” -(अनुवादित)

 

अमरीकी रक्षा विभाग द्वारा जारी, ISIS के विरुद्ध अमरीकी सेना के हवाई हमले का वीडियो यहां देखा जा सकता है.

निष्कर्ष रूप में, सीरिया में अमरीकी हवाई हमले की तस्वीर भ्रामक रूप से बालाकोट में भारतीय वायुसेना के हवाई हमले के रूप में शेयर की गई.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+