कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

भ्रष्ट अधिकारियों को न्यायपालिका से मिल रहा है संरक्षण- जस्टिस राकेश कुमार

जस्टिस राकेश कुमार ने लिखा है कि अपने भ्रष्टाचार से बचने के लिए सीनियर जज भी चीफ जस्टिस के आगे पीछे घूमते रहते हैं.

जो युवा ख़ुद को कश्मीर का एक्सपर्ट समझते हैं, उन्हें सरकारी शिक्षा और नौकरी ने जोकर बना दिया है- रवीश कुमार

देश के युवाओं का घोर पतन हो चुका है. इन्हें कश्मीर की तरह सूचना तंत्र से काटकर प्रोपेगैंडा में झोंकने के लिए…

हम कब ऐसा सिस्टम बना पाएंगे जो सबके लिए बिना किसी पैरवी-परेशानी के काम करता हो?- रवीश कुमार

मुख्यमंत्री अमृत योजना के तहत बी पी एल को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना था मगर इसमें भी ऊपरी कमाई का जुगाड़ खोज लिया…

लंबाई देखकर लेख पढ़ना छोड़ देने वाले लोग ही राष्ट्रवाद और सांप्रदायिकता की आंधी में हांक लिए जाते हैं- रवीश कुमार

डाउन टू अर्थ के ताज़ा अंक में मेडिकल शिक्षा को लेकर मोदी सरकार की कारगुज़ारी का विश्लेषण किया है.

छात्र, किसान और सरकारी कर्मचारी सभी हालकान हैं, लेकिन इसके बाद भी नेशनल सिलेबस पर ज़ोर है-रवीश कुमार

जम्मू-कश्मीर, गुजरात, पंजाब, बंगाल,ओडिशा, राजस्थान, यूपी और बिहार में समस्याओं से प्रभावित लोगों की संख्या लाखों…

तीन साल में 1 करोड़ नौकरियों का दावा करने वाली सरकार में उल्टा नौकरियां ही चली गईं- रवीश कुमार

मोदी सरकार ने 2016 में छह हज़ार करोड़ के पैकेज और अन्य रियायतों का ज़ोर शोर से एलान किया था.

आर्थिक रुप से फ़ेल सरकार अपनी राजनीतिक सफ़लताओं में मस्त है: रवीश कुमार

अप्रैल से जून की पहली तिमाही के नतीजे बता रहे हैं कि मांग ठंडी हो गई है और मुनाफ़ा अंडा हो गया है. 2,179 कंपनियों…

सांप्रदायिक राष्ट्रवाद के चंगुल में फंस कर बैंकरों ने ख़ुद को ही अकेला कर लिया- रवीश कुमार

वित्त मंत्रालय से लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय तक कई तरह के आर्थिक सलाहकार हैं. उनके आइडिया में ऐसी क्या कमी है जिसकी…

छात्रवृति रोक दी गई, नौकरी नहीं दी जा रही है, फिर भी नौजवान मस्त हैं-भारत के युवा खोखले हो चुके हैं: रवीश कुमार

नौजवानों का हुजूम धार्मिक उन्माद के वक्त ताकतवर नज़र आता है बाकी समय कोई फ़र्क नहीं पड़ता.

मैं अपनी बीमार मां से 12 दिन तक बात नहीं कर पाया: एक कश्मीरी डॉक्टर की कहानी रवीश की ज़ुबानी

“इतनी बुनियादी बात लोग समझने को तैयार नहीं है कि इंसाफ़ और बदले की भावना एक ही नहीं है. मुसलमानों का पीड़ित होना…

CGL 2017 के परीक्षार्थियों की क्यों नहीं सुनती मोदी सरकार: रवीश कुमार

कुछ परीक्षार्थियों ने बताया कि ट्विटर पर अपनी समस्या को ट्रेंड करवाया तो मंत्री जी ने ब्लाक कर दिया. यह उचित नहीं…
You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+