कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

फ़र्ज़ी है दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष अंकिव बैसोया की डिग्री, तिरुवल्लुवार विश्वविद्यालय ने की पुष्टि

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के नेता अंकिव बैसोया ने तिरुवल्लुवार विश्वविद्यालय या उसके किसी भी संबद्ध कॉलेज में कभी पढ़ाई नहीं की थी।

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष अंकिव बैसोया की डिग्री फ़र्ज़ी है। तमिलनाडु के तिरुवल्लुवार विश्वविद्यालय ने इसकी पुष्टि कर दी है। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने कहा है कि दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डीयूएसयू) के नव-निर्वाचित अध्यक्ष और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के नेता अंकिव बैसोया ने तिरुवल्लुवार विश्वविद्यालय या उसके किसी भी संबद्ध कॉलेज में कभी पढ़ाई नहीं की थी।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक 3 अक्टूबर को विश्वविद्यालय ने राज्य के प्रिसिंपल सेक्रेटरी को लिखे गए पत्र में कहा है कि  “अंकिव बैसोया ने हमारे विश्वविद्यालय में या हमारे किसी भी संबद्धित कॉलेजों में कभी भी नामांकन नहीं कराया था और वह हमारा छात्र नहीं है।”

गौरतलब है कि अंकिव बैसोया ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की तरफ से दिल्ली विश्वविद्यालय का चुनाव लड़ा था। चुनाव के नामांकन पत्र में उसने दावा किया था कि वह तमिलनाडु के तिरुवल्लुवार विश्वविद्यालय का छात्र रहा है। मतदान के कुछ ही दिन बाद कांग्रेस की छात्र इकाई नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया ने अंकिव की डिग्री को लेकर सवाल उठाए थे।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+