कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

छत्तीसगढ़: पत्रकार ने की आत्महत्या की कोशिश, मुख्यमंत्री पर लगाया उत्पीड़न का आरोप

पत्रकार सौरभ अग्रवाल दैनिक स्याही नामक एक हिंदी अख़बार चलाते हैं।

बीते गुरुवार को छत्तीसगढ़ में रायगढ़ ज़िले के एक पत्रकार ने ज़हर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। सौरभ अग्रवाल, जो कि दैनिक स्याही नामक एक हिंदी अख़बार चलाते हैं, ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमण सिंह और भाजपा नेता विजय अग्रवाल पर उन्हें डराने, धमकाने और शोषण करने का आरोप लगाया है।

ग़ौरतलब है कि ज़हर खाने से पहले अग्रवाल ने एक विडियो में अपनी परेशानियों के बारे में बताया और उसे सोशल मीडिया में साझा किया।

नेशनल हेराल्ड की एक ख़बर के मुताबिक़, इस पत्रकार के दोस्त ने अपना नाम प्रकाशित न करने के शर्त पर बताया कि अग्रवाल ने रायगढ़ ज़िला न्यायालय के सामने ज़हर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की, जहां से उन्हें अस्पताल ले जाया गया। अग्रवाल की हालत अभी गंभीर बताई जा रही है।

सौरभ के दोस्त ने बताया कि उन्होंने ज़िला न्यायालय में इच्छामृत्यु की मांग की थी।

सौरभ के ख़िलाफ़ भाजपा नेताओं द्वारा ज़बरन वसूली के झूठे केस लगाए जा रहे थे। दैनिक स्याही में उनके द्वारा प्रकाशित ख़बरों से नाराज़ भाजपा नेता विजय अग्रवाल और उनके समर्थकों ने उनके ख़िलाफ़ चार एफ़आईआर दर्ज करवाई थी।

सौरभ अग्रवाल ने अपने विडियो में यह कहा कि जिस तरह से उन्हें परेशान किया जा रहा है, ऐसे में उनके पास आत्महत्या करने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचता है।

समझने की बात यह है कि सैंकड़ों पत्रकार इस देश में काम कर रहे हैं और पत्रकारिता को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ बनाए रखने और नेताओं और मंत्रियों का दलाल बनने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में इस तरह की घटनाएं देश में लोकतंत्र को हानि पहुंचा सकती हैं।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+