कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

चेन्नई में बोले राहुल गांधीः सरकारी नौकरियों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देगी कांग्रेस

कांग्रेस अध्यक्ष ने स्टैला मैरिस कॉलेज में छात्रों से बेरोज़गारी, शिक्षा और अन्य प्रमुख मुद्दों पर बात की.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के स्टेला मैरिस कॉलेज फॉर वुमेन की छात्राओं के साथ संवाद किया. इस दौरान छात्राओं के सवालों का जवाब देते हुए राहुल गांधी मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला.

छात्राओं के साथ राहुल गांधी के संवाद की कुछ मुख्य बातें-

  •  राहुल गांधी ने कहा कि भारत में इन दिनों एक वैचारिक लड़ाई चल रही है. एक विचारधारा लोगों को एक करने के लिए है, जो कहती है कि देश के सभी लोगों को एक साथ रहना चाहिए. वही, नरेन्द्र मोदी और भाजपा की विचारधारा है कि देश के सभी लोग एक तरह से सोचें.
  • कांग्रेस अध्यक्ष ने महिला आरक्षण बिल को लेकर कहा कि 2019 में कांग्रेस की सरकार बनने पर हम लोकसभा, विधानसभा में महिला आरक्षणा बिल पास करेंगे. राष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं के लिए सरकारी नौकरियों में  33 प्रतिशत सीटें आरक्षित होंगी.
  • राहुल गांधी ने कहा कि फिलहाल शिक्षा पर कम खर्च किया जाता है. उन्होंने कहा 2019 में कांग्रेस की सरकार बनी तो जीडीपी का 6 प्रतिशत शिक्षा पर खर्च किया जाएगा. उन्होंने कहा कि सिर्फ पैसा खर्च करना ही नहीं बल्कि, शिक्षण संस्थानों की स्वायत्तता भी बहुत जरूरी है.
  • छात्राओं से राहुल गांधी ने पूछा क्या प्रधानमंत्री मोदी आप सब के बीच इस तरह खड़े होकर आपके सवालों को जवाब दे सकते हैं?
  • कांग्रेस अध्यक्ष ने छात्राओं से पूछा कि क्या नोटबंदी अच्छा फैसला था? इस पर छात्राओं ने एकसुर में “नहीं” कहा. फिर राहुल गांधी ने पूछा कि क्या प्रधानमंत्री ने इस फैसले से पहले देश से राय ली थी? इसका जवाब भी छात्राओं ने “ना” में ही दिया.
  • देश में महिलाओं की स्थिति को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति उत्तर भारत के राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, बिहार से बहुत बेहतर है. खासकर तमिलनाडु में महिलाओं की स्थिति अच्छी है.
  • कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मेहुल चौकसी, नीरव मोदी और विजय माल्या इन सभी में एक समानता है कि ये सभी देश के हजारों करोड़ रुपए लेकर भाग गए हैं.
  • देश में रोजगार की स्थिति को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि आपको लगता है कि इस शानदार कॉलेज से पढ़कर निकलते ही आपको जॉब मिल जाएगी. क्योंकि देश में रोजगार सृजन नहीं हो रहा है. उन्होंने कहा कि आगामी 10-20 सालों में सबसे बड़ी चुनौती चीन से मुकाबला करना होगा.
  •  राहुल गांधी ने सवाल किया कि आपमें से कितने लोगों ने कितनी बार भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 3000 महिलाओं के बीच इस तरह खड़े होते देखा है. प्रधानमंत्री मोदी में हिम्मत नहीं है कि वह महिलाओं के सवालों का इस तरह से सामना कर सकें. उन्होंने कहा कि वह छात्रों के साथ संवाद में यकीन रखते हैं, क्योंकि इससे उन्हें सीखने का मौका मिलता है.
  • रॉबर्ट वाड्रा के बारे में एक छात्रा के सवाल पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में फंसे हर आदमी पर कार्रवाई की जाए, प्रधानमंत्री रॉबर्ट वाड्रा की जांच भले ही करें, लेकिन राफ़ेल घोटाले में जिस तरह प्रधानमंत्री मोदी ने चोरी की है, उसकी जांच भी होनी चाहिए. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी कभी राफ़ेल पर एक शब्द नहीं बोलते हैं. उन्होंने एचएएल को हटाकर अनिल अंबानी को यह कॉन्ट्रैक्ट दिलाया है. राहुल गांधी ने कहा कि जेंटलमैन (पीएम मोदी) ने कहा था कि वह चौकीदार हैं तो इसकी शुरुआत खुद से करें, अपने ख़िलाफ़ भी जांच की अनुमति दें.
  • राहुल गांधी ने कहा कि इस समय देश के हिंदुओं को मुसलमानों से लड़ाया जा रहा है, दक्षिण भारत को उत्तर भारत से लड़ाया जा रहा है. देशभर में नफ़रत का माहौल पैदा किया है, जिसे ख़त्म करना जरूरी है.
  • जम्मू कश्मीर के हालातों पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि साल  2004 से 2014 के बीच आतंकी घटनाओं में हुई मौतों की संख्या में भारी  गिरावट आई थी, क्योंकि कांग्रेस की सरकार ने जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ नजदीकियां बढ़ाई और उन्हें मुख्यधारा में लाने की कोशिशें की. राहुल गांधी ने जम्मू कश्मीर के ताजा ख़राब हालातों के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया.
  • पुलवामा हमले पर भी राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ़ के  40 जवानों की शहादत के बाद मोदी सरकार जागी है और कार्रवाई की बात कर रही है. कांग्रेस अध्यक्ष ने सवाल किया कि आखिर उन जवानों को बचाने के लिए पहले से ही कदम क्यों नहीं उठाए गए.

इस संवाद कार्यक्रम में मौजूद छात्राओं ने गर्मजोशी से राहुल गांधी को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए शुभकामनाएं भी दी.

न्यूज़सेंट्रल24x7 को योगदान दें और सत्ता में बैठे लोगों को जवाबदेह बनाने में हमारी मदद करें
You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+