कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

रोज़गार के लिए हानिकारक हैं PM मोदी: कांग्रेस

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘देश के युवाओं को, देश के हर कामगार को, देश के हर मध्यमवर्गीय और गरीब को अब ये समझना पड़ेगा कि मोदी जी, रोजगार के लिए हानिकारक हैं.’’

नौकरियों में पुरुषों की संख्या कम होने से जुड़ी खबर की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और दावा किया कि रोजगार सृजन के मामले में वह हानिकारक और मजाक साबित हुए हैं.

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘मैंने सोचा था कि भारत रोजाना 450 नौकरियों का सृजन कर रहा है. यहां तो मोदी जी की नीतियों ने 2018 में एक करोड़ नौकरियां नष्ट कर दीं. यानी रोजाना 27000 नौकरियां गईं. भारत के प्रधानमंत्री एक मजाक हैं.’

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से बातचीत में दावा किया, ‘‘ देश के युवाओं की नौकरी अगर किसी ने खाई तो वो प्रधानमंत्री मोदी जी ने, जो अपने आपको चौकीदार कहते हैं. चौकीदार ने 10 करोड़ रोजगार 5 साल में देने का वादा किया था. वो तो दिए नहीं, उल्टा लाखों रोजगार मोदी सरकार ने खत्म कर दिए.’’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘देश के युवाओं को, देश के हर कामगार को, देश के हर मध्यमवर्गीय और गरीब को अब ये समझना पड़ेगा कि मोदी जी, रोजगार के लिए हानिकारक हैं.’’ खबरों के मुताबिक, 2017-18 के आंकड़ों से पता चलता है कि 2011-12 के मुकाबले बेरोजगारी दर में कमी आई है. 2011-12 में 30.4 करोड़ पुरुष नौकरी पर थे लेकिन अब यह संख्या घटकर 28.6 करोड़ हो गई है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पुरुषों के लिए बेरोजगारी दर 7.1 प्रतिशत और 5.8 प्रतिशत है.

इसे भी पढ़ें- मोदी है तो मुमकिन है: 24 साल में पहली बार, पुरुष कामगारों की संख्या में आई गिरावट

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+