कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

झूठा दावा: कन्हैया ने नहीं कहा- हनुमान दूसरे की बीबी के अपमान के लिए लंका जला दिए

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

कुख्यात ट्विटर हैंडल @squintneon ने CPI से बेगूसराय उम्मीदवार कन्हैया कुमार का एक वीडियो पोस्ट किया और आरोप लगाया कि उनहोंने ने कहा कि हनुमान ने लंका में आग लगाई क्योंकि किसी और की पत्नी का अपमान किया गया था। इस ट्वीट का पहला वाक्य है-“हनुमान दूसरे की बीबी के अपमान के लिए लंका जला दिए”. इसके बाद कुमार के कथित बयान को “महिला विरोधी और हिंदू विरोधी” कहा गया. अभाविप, असम के राज्य सोशल मीडिया प्रभारी मानस ज्योति शर्मा द्वारा चलाए जाते @squintneon ने कहा कि कन्हैया कुमार जैसे लोग, जब महिलाओं से बलात्कार या छेड़छाड़ होती है तो खड़े होकर देखते हैं. @squintneon ने यह दिखाने का प्रयास किया कि कन्हैया कुमार ने हिंदू धर्म के एक देवता की अवहेलना की.

25-सेकंड की इस क्लिप को जल्द ही अन्य सोशल मीडिया यूज़र्स द्वारा उठा लिया गया.

झूठा दावा

सीपीआई उम्मीदवार के नाम से दिया गया बयान उनके द्वारा नहीं कहा गया था. अगर कोई 25 सेकंड की क्लिप देखे तो यह स्पष्ट हो जाता है। कुमार ने “अपमान” नहीं, बल्कि “अपहरण” कहा था,

उनका पूरा बयान यह है – “दूसरे की पत्नी जो है उनका अपहरण हुआ उसके लिए लंका जला दी. और यहाँ हनुमान जी के नाम पे अपने देश के लोगों का घर जला रहे है।” कुमार के वीडियो के लिए हमने कीवर्ड – “कन्हैया कुमार हनुमान स्पीच” – के साथ खोज की तो पाया कि यह भाषण कम से कम एक वर्ष पुराना है। कुमार इस बारे में बात कर रहे थे कि कैसे हनुमान को हिंदुत्व से जोड़कर दिखाया जाता है.

कन्हैया कुमार को निशाना बनाने वाली गलत सूचना को अक्सर सोशल मीडिया में जगह मिली है। इससे पहले, उनके एक और भाषण को झूठी बयानबाज़ी के साथ पेश किया गया था.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+