कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

फैक्ट चेकः क्या ‘777888999’ नंबर से कॉल आने पर आपके फ़ोन में विस्फोट हो सकता है? जानें सच

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

पिछले कुछ सालों से सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है जिसमें बताया गया है कि ‘777888999’ नंबर से आपको कॉल प्राप्त होने पर आपके फ़ोन में विस्फोट हो सकता है। इस वीडियो में अस्पताल के कुछ दृश्य दिख रहे है, जिसमें एक व्यक्ति को खून से लथ पथ हालत में स्ट्रेचर पर लेटे हुए देखा जा सकता है और इस वीडियो में ABP लाइव का क्लिप वीडियो भी शामिल है। वीडियो के अंत में व्यक्ति को कहते हुए सुना जा सकता है कि उन्हें 777888999 नंबर से कॉल आया और उन्होंने इसलिए उठाया क्योंकि उन्हें पता नहीं था कि इसका अंजाम क्या होगा। इसके साथ साझा किए जा रहे दावे में कहा गया है कि यह नंबर वायरस है जो फ़ोन कनेक्ट होने पर फोन ब्लास्ट होने का कारण बनता है।

एक उपयोगकर्ता ने ऑल्ट न्यूज़ एप पर इस वीडियो की तथ्य जांच करने के लिए इसे अपलोड किया था।

तथ्य जांच

यह वीडियो एक अफवाह का हिस्सा है जो काफी समय से सोशल मीडिया में प्रसारित है और इसके संदेश में मूल दावे के अलावा सिर्फ कुछ ही बदलाव हुए है हालांकि, इस वायरल क्लिप का सावधानीपूर्वक विश्लेषण करने से इस झूठी अफवाह को ख़ारिज किया जा सकता है।

1. ‘777888999’ नंबर 9 आंकड़ों का नंबर है। भारत में मोबाइल फ़ोन नंबर के आंकड़ों की संख्या 10 है। यह कॉल किसी अन्य देश से भी नहीं हो सकता है क्योंकि इसमें किसी भी देश का कोड नंबर शामिल नहीं है।

2. यूट्यूब पर की-वर्ड्स से सर्च करने पर पता चलता है कि इसे कई अन्य दावों से सोशल मीडिया में साझा किया है जैसे कि ई-सिगरेट की वजह से आदमी के मुंह में विस्फोट हुआ

3. ऑल्ट न्यूज़ ने वायरल वीडियो को इनविड के जरिए कई की-फ्रेम में तोड़कर व्यक्ति के खून से जबड़े वाली तस्वीर को रिवर्स सर्च किया। 2016 में इस वीडियो की ब्राज़ील की एक तथ्य जांच वेबसाइट E-Farsas द्वारा भी पड़ताल की गई थी। E-Farsas ने दावा किया था कि यह व्यक्ति दरअसल मुँह में विस्फोटक रख कर आत्महत्या करने का प्रयास कर रहा था। वेबसाइट के मुताबिक, यह घटना 2014 को हुई थी। ऑल्ट न्यूज़ इसकी स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं कर सकता है क्योंकि E-Farsas द्वारा दिए गए स्त्रोत अब उपलब्ध नहीं है।

4. हमने पाया कि वीडियो में उपयोग की गई ABP लाइव क्लिप दिसंबर 2016 के वायरल सच  नाम के कार्यक्रम के प्रसारण का हिस्सा है, जिसमें समाचार चैनल “वायरस” पर रिपोर्ट नहीं कर रहा था बल्कि वायरल दावे की पड़ताल कर रहा था। यह पूरा प्रसारण 5 मिनट का है और ABP लाइव  के कार्यक्रम में तथ्य जांच की शुरुआत 2:40 मिनिट से होती है। वायरल वीडियो में ABP लाइव के सिर्फ वायरल मैसेज के दावे को ही लिया गया है जिसमें लोगों से अपील किया जा रहा है कि ‘777888999’ नंबर से आने वाले कॉल को ना उठाए। इससे सोशल मीडिया यूज़र्स को यह विश्वास दिलाने का प्रयास किया गया है कि यह “जानलेवा नंबर” सच है क्योंकि इसे मीडिया द्वारा प्रसारित किया गया है।

वायरल वीडियो और ABP लाइव के मूल वीडियो की तस्वीरों को नीचे एक साथ रखा गया है।

इस प्रकार, कई वीडियो की कुछ क्लिप का उपयोग करके एक 4 मिनट का वीडियो बनाकर गलत दावा के साथ इसे शेयर किया गया है कि ‘777888999’ से कॉल प्राप्त करने पर विस्फोट हो सकता है। हकीकत ये है कि न तो ये नंबर कोई वायरस है और न ही इस नंबर से कॉल आने पर आपके फोन में बलास्ट होगा।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+