कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

फर्जी खबर: पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर वाले करेंसी नोट छापेगी मोदी सरकार

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

अभी सोशल मीडिया पर वायरल एक लेख के अनुसार, पीएम मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर वाले करेंसी नोट छापने का “ऐतिहासिक कदम” उठाया है. “मोदी सरकार का ऐतिहासिक फैसला, भारतीय मुद्रा पर होगी पूर्व प्रधानमंत्री अटलजी की तस्वीर” -यह शीर्षक है, apnikhabare.com नामक वेबसाइट की एक रिपोर्ट का, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री की तस्वीर वाला 200 रुपये का एक नोट दिखलाया गया है. एक फेसबुक पेज Hindutva.info से इस लेख को लगभग 3,000 लाइक मिले और 500 से ज्यादा शेयर हुए हैं.

हिंदुस्तानी सेना और वी सपोर्ट राम राज्य जैसे दूसरे फेसबुक पेजों ने भी इस लेख को प्रसारित किया है. इनके संयुक्त रूप से 500 से ज्यादा शेयर हुए हैं.

अपनी खबरे‘ की रिपोर्ट को कई सोशल मीडिया यूजर्स ने ट्वीट किया है.

 

इस रिपोर्ट के बारे में दिलचस्प बात यह है कि इसका शीर्षक और साथ में 200 रुपये के नोट की तस्वीर से लगता है कि सरकार उस राशि का नोट छापेगी, मगर लेख में उसका कोई जिक्र ही नहीं है. दरअसल, यह दावा करता है — “…अब मोदी सरकार की तरफ से 100 रुपए का नया सिक्का लॉन्च किया जाएगा जिसपर पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटलजी की तस्वीर छपी होगी.” हालांकि, रिपोर्ट के साथ दी गई तस्वीर 1,000 रुपये के सिक्के की है.

 

सच क्या है?

सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर के साथ भारतीय करेंसी नोट या सिक्का जारी करने के बारे में कोई घोषणा नहीं की है. वास्तव में, प्रधानमंत्री मोदी ने स्वर्गीय प्रधानमंत्री की स्मृति में एक महीना पहले 100 रुपये का केवल स्मारक सिक्का जारी किया था.

यह कार्यक्रम 24 दिसंबर, 2018 को आयोजित हुआ था, जिसमें वित्त मंत्री अरुण जेटली, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, और वरिष्ठ लाल कृष्ण आडवाणी समेत वरिष्ठ भाजपा नेता उपस्थित थे. यह सिक्का वाजपेयी के जन्मदिन से एक दिन पहले जारी हुआ था और इस कार्यक्रम की खबरें मुख्यधारा के सभी मीडिया चैनलों द्वारा चलाई गई थीं.

 

स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर वाले करेंसी नोट के जारी होने की भ्रामक सूचना, 100 रुपये का स्मारक सिक्का सरकार द्वारा जारी होने के पहले से ही (दिसंबर से) प्रसारित हो रही है. ‘अपनी खबरे‘ का यह लेख भी 13 दिसंबर, 2018 को प्रकाशित हुआ था. एक अन्य नकली वेबसाइट ‘लाइव बवाल‘ (livebavaal) ने भी उसी दिन इस विषय पर एक लेख प्रकाशित किया था.

ऐसा पहली बार नहीं था जब भारत सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री की स्मृति में सिक्का जारी किया. पहला स्मारक सिक्का देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के सम्मान में 1964 में जारी किया गया था. 1985 में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी की याद में स्मारक सिक्के जारी किए गए थे. रवींद्र नाथ टैगोर और महात्मा गांधी जैसे दूसरे अनुभवी नेताओं के प्रति भी इस प्रकार सम्मान प्रकट किया जा चूका है.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+