कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

फ़ेक न्यूज़ः गुजरात में दलित उप सरपंच की हत्या के रूप में असंबंधित विडियो शेयर

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

सोशल मीडिया में एक व्यक्ति द्वारा ज़मीन पर पड़े एक शख्स को बड़ी बेरहमी से मारने वाला एक वीडियो साझा किया जा रहा है। ट्विटर उपयोगकर्ता आज़ाद परमार द्वार इस वीडियो को 20 जून को एक संदेश के साथ साझा किया गया था कि,“गुजरात मे जातिवादी अत्याचार दिन ब दिन बढता ही जारहा है @narendramodi BJP के राज मे कल एक सरपंच की बोटाद जिले मे हत्या की दुसरी घटना राजकोट मे दलित युवान की हत्या जाहेर मे की गई क्या पता कल दलित अत्यासार के खिलाफ बोलने वाले हम जैसे लोगकी ….@Mayawati जबतक है दम लडेगे हम जय भीम”।

हाल की घटना का असंबधित वीडियो

गूगल पर सामान्य कीवर्ड्स से सर्च करने से, ऑल्ट न्यूज़ ने पाया कि यह वीडियो इसके साथ साझा किये गए संदेश से असंबधित है। वीडियो फुटेज में एक अलग घटना को दिखाया गया है, जो कि गुजरात में ही हुई थी। दैनिक भास्कर  ने 19 जून, 2019 को इस घटना के बारे में रिपोर्ट किया था कि, इमरान शा उर्फ ​​इमरान गोल्डन की कथित तौर पर सूरत के लिंबायत इलाके में मार्कंडेश्वर महादेव मंदिर के पास बाबू बट्टकांडो उर्फ ​​बटको और विनोद मोर द्वारा हत्या कर दी गई थी। खबर के मुताबिक, पीड़ित इमरान पुलिस को सूचना देने वाला व्यक्ति था।

ऑल्ट न्यूज़ ने इस बात की पुष्टि करने के लिए लिम्बायत पुलिस स्टेशन से संपर्क किया कि क्या वीडियो ऊपर बताई गई घटना से संबंधित है। पुलिस इंस्पेक्टर वि.एम.मकवाणा ने कहा,“हाँ , हरे रंग की टीशर्ट वाला व्यक्ति हमलावर (बाबू बट्टकांडो) है और यह घटना 18 जून को हुई थी। हम इस घटना के बारे में जांच कर रहे है”।

सोशल मीडिया में साझा किया जा रहा संदेश इस वीडियो की घटना से असंबधित है। दलित समुदाय के लोगों पर दो हमले राजकोट और बोटाद में हुए थे, जहां पर अपने साथ अत्याचार की शिकायत करने पर एक दलित युवक की कथित तौर पर हत्या कर दी गई और एक दलित उप सरपंच को उच्च जाति के लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी।

वीडियो को अक्सर सोशल मीडिया में संदर्भ से अलग साझा किया जाता है। हाल ही में, 2018 के एक वीडियो, जिसमें एक व्यक्ति के हाथ में कटा हुआ सिर है, इसे इस दावे के साथ साझा किया कि चेन्नई में एक व्यक्ति ने अपने बहन के बलात्कारी का सिर काट दिया। कोई भी वीडियो जिसके साथ भड़काऊ संदेश हो, उसके बारे में गूगल पर किसी भी मीडिया संगठन की खबर ढूंढा जाना चाहिए, ताकि प्रसारित वीडियो और और उससे संदर्भित घटना के बारे में पता लगाया जा सके।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+