कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

फ़ेक न्यूज़ः इटली की ऐतिहासिक इमारतों को बताया गया राहुल गांधी की संपत्ति, सोशल मीडिया पर झूठी ख़बर वायरल

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

एक व्यक्ति शानदार यूरोपीय वास्तुकला की इमारतों की ओर इशारा करते हुए दावा करते हैं कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन भव्य संपत्तियों के मालिक हैं। वह व्यक्ति गुजराती में कहते हैं, “उन्होंने भारत को लूट लिया है और इन इमारतों को इटली में खरीदा है”। यह सोशल मीडिया में वायरल हो रहा नवीनतम वीडियो है। एक मिनट की इस वीडियो क्लिप में लोगों को राहुल गांधी के खिलाफ सावधान करते हुए दिखाया गया है, कि उन्होंने भारत के पैसे से इटली में तीन असाधारण इमारतें खरीदीं और उन्हें भारी किराए पर दे रखा है।

फेसबुक पेज मेरा भारत महान से, इस वीडियो को 1.5 लाख से अधिक बार देखा गया है और लगभग 13,000 शेयर हुए हैं। “इटली से आयी पप्पु की सच्चाई देखो ओर दूसरो को भी दिखाओ।” यह कैप्शन उस वीडियो के साथ है। वीडियो में, उस व्यक्ति को गुजराती में यह कहते सुना जा सकता है, “राजीव गांधी के बेटे, पप्पू, वह उनकी इमारत है। उन्होंने पूरे देश को लूटने के बाद इस इमारत को खरीदा। मैं इटली में हूं और यह राजीव और सोनिया गांधी की इमारत है। इन तीनों इमारतों से भारत में बैठकर पप्पू पैसा कमाता है। उनका व्यवसाय इन संपत्तियों को किराए पर देना है। उसने भारत को लूटा है। पप्पू को खत्म करो और उसे भारत से बाहर निकाल दो। जय श्री कृष्ण मैं इटली में हूं।” -(अनुवाद)

https://www.facebook.com/merabharatraj/videos/404303673744034/

यह वीडियो हिंदी (कीवर्ड्स – बिल्डिंग राहुल गांधी) और अंग्रेजी (keywords – Pappu Italy buildings) दोनों में वायरल है।

यह ट्विटर पर भी प्रसारित किया जा रहा है। इस वीडियो को रिट्वीट करने वालों में आरबीआई के निदेशक एस गुरुमूर्ति भी हैं।

गांधी की संपत्ति नहीं, इटली की ऐतिहासिक इमारतें

वीडियो में दिखाई गई इमारतें, इटली के ट्यूरिन में सिटी एस्क्वायर- पियाज़ा कैस्टेलो – का एक हिस्सा हैं। 16 वीं शताब्दी में निर्मित रॉयल पैलेस ऑफ ट्यूरिन सहित चौकोर आकार की ऐतिहासिक इमारतों में संग्रहालय, थिएटर और महल हैं। इस आर्किटेक्चरल कॉम्प्लेक्स में से कई यूनेस्को द्वारा संरक्षित विश्व विरासत स्थल हैं।

नीचे दिए गए कोलाज में पियाज़ा कैस्टेलो में रॉयल पैलेस का गूगल स्ट्रीट व्यू दिखाया गया है और इसके साथ तुलना के लिए वायरल वीडियो में दिखलाए गए महल का स्क्रीनग्रैब जोड़ा गया है।

नीचे दिया गया फोटो संग्रह वह अनुमानित स्थान दिखाता है जहां वायरल क्लिप को शूट किया गया होगा।

पियाज़ा कैस्टेलो के यूट्यूब पर भी काफी वीडियो हैं, जिनमें इन्हीं वास्तुकला वाली इमारतें दिखाई देती हैं।

एक ऊटपटांग दावे ने सोशल मीडिया में अपनी जगह बना ली और कई लोगों ने इसे सच मान लिया। पोस्ट में लगाए गए आरोप की मूर्खता ही संदेह पैदा कर देती है। अगर राहुल गांधी के पास इटली में ऐसी असाधारण संपत्ति होती, तो यह खबर भारत में सुर्खियां बनती। उनके इन “बड़ी भारी संपत्तियों” पर कोई मीडिया रिपोर्ट न होना, यह भी दावे या आरोप के झूठे होने का संकेत है।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+