कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

देश में डर का माहौल, सच बोलने वालों पर हो सकता है व्यक्तिगत हमला: विशाल भारद्वाज

विशाल भारद्वाज ने कहा है कि देश में डर का ऐसा माहौल पहले कभी नहीं था।

फिल्म निर्माता विशाल भारद्वाज ने कहा है कि देश में डर का माहौल बना हुआ है। अगर आप कुछ भी बोलते हैं, तो सामने वाला आपको व्यक्तिगत रूप से निशाना बना सकता है। उन्होंने कहा कि डर के इसी माहौल के कारण बॉलीवुड राजनीतिक विवादों से दूर रहता है।
अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में विशाल ने कहा- अगर इस समय आप देश में कुछ भी बोलते हैं, तो आपके ऊपर व्यक्तिगत हमला हो सकता है। उन्होंने इसके लिए दिवंगत पत्रकार गौरी लंकेश का उदाहरण भी दिया।
गौरतलब है कि पिछले कुछ महीनों में बॉलीवुड की कई फिल्मों को निशाना बनाया जाता रहा है। हाल ही में करण जौहर की फ़िल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ को इसलिए निशाना बनाया गया, क्योंकि इसमें पाकिस्तानी कलाकार फ़वाद खान ने अभिनय किया था। इसके साथ ही पिछले साल राजपूत समाज के गुंडों ने फ़िल्म पद्मावती का पुरजोर विरोध किया था।
इस दौरान विशाल भारद्वाज ने चार्ली चैपलिन की फ़िल्म ‘द ग्रेट डिक्टेटर’ का उदाहरण भी दिया। उन्होंने कहा कि इस फ़िल्म में चार्ली चैपलिन ने हिटलर को दुनिया के ग्लोब को फुटबॉल बनाकर खेलते हुए फिल्माया था। हालांकि चार्ली के पास पैसे बहुत अधिक थे, लेकिन हमारे पास पैसे भी होते, तो आज उस तरीके से बात करने की हिम्मत नहीं होती। उन्होंने कहा कि आज देश का जो माहौल बन गया है, वो पहले कभी नहीं था।
You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+