कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

आश्रम में लड़कियों को दिए जाते थे गर्भ निरोधक इंजेक्शन, आश्रम संचालक गिरफ़्तार

यहां आश्रम में रह रहीं 18 लड़कियों को गर्भ निरोधक इंजेक्शन देने की बात सामने आई है।

ग्वालियर में मूक बधिर लड़कियों के साथ बलात्कार, भ्रूण जलाने और जबरन गर्भपात जैसे मामलों के खुलासे के बाद नया मामला सामने आया है। यहां डॉ बीके शर्मा के स्नेहालय में बच्चियों को जबरन गर्भ निरोधक इंजेक्शन दिए जाने की बात सामने आई है।

समाचार वेबसाइट सबरंग इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार महिला एवं बाल विकास की टीम ने जांच के दौरान स्नेहालय आश्रम से कई गर्भनिरोधक इंजेक्शन और सिरिंज बरामद किए हैं।

यहां 25 बच्चियों का मेडिकल टेस्ट कराया गया, जिसमें पाया गया कि 18 लड़कियों को गर्भ निरोधक इंजेक्शन दिया जाता था। फिलहाल 2 लड़कियों को आगे की जांच के लिए मुरार के प्रसूति गृह भेजने की सिफारिश की गई है।

पुलिस ने आश्रम के संचालक डॉ बीके शर्मा, पत्नी भावना शर्मा सहित 9 अन्य लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की है। वेबसाइट के मुताबिक महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम ने जब बंद कमरों को खुलवाकर तलाशी ली तो किचन में गर्भ निरोधक इंजेक्शन रखे मिले, जिन्हें जब्त कर लिया गया।

विभाग के टीम ने जब आश्रम के कंपाउंडर राधेश्याम से बात की तो पता चला कि 18 लड़कियों को गर्भ निरोधक इंजेक्शन लगाए जाते हैं। इसी आश्रम से मूक-बधिर महिला से दुष्कर्म के मामले में चौकीदार साहब सिंह को गिरफ्तार किया गया है। उसने अपनी जुर्म कबूल ली है। आश्रम के केयर टेकर प्रभा देवी का कहना है कि उसे संचालक बीके शर्मा के आदेशों को मानना पड़ता था।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+