कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

13 प्वाइंट रोस्टर पर भड़के लालू यादव, कहा- मनुवादियों ने चोर दरवाजे से समाप्त कर दिया आरक्षण

राजस्थान विश्वविद्यालय ने हाल ही में 13 पदों की वैकेंसी निकाली है, जिसमें पिछड़ी जाति के उम्मीदवारों के लिए एक भी पद नहीं रखा गया है.

देश के विश्वविद्यालयों में 200 प्वाइंट की जगह 13 प्वाइंट रोस्टर लागू होने से ओबीसी और अन्य पिछड़ी जातियों के आरक्षण को होने वाले नुकसान को लेकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि मनुवादियों ने चोर रास्ते से आरक्षण को ख़त्म कर दिया है. उन्होंने हाल ही में राजस्थान केंद्रीय विश्वविद्यालय द्वारा जारी 33 पदों के विज्ञापन को भी साझा किया है जिसमें सभी पदों को सामान्य वर्ग के लिए रखा गया है.

दरअसल, यूजीसी द्वारा लागू किए विभागवार 13 प्वाइंट रोस्टर सिस्टम से अभी तक आरक्षण का लाभ ले रहे जातियों को नुकसान होने की बात की जा रही है. हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार की उस याचिका को ख़ारिज कर दी है, जिसमें सरकार ने इलाहाबाद हाइकोर्ट के फ़ैसले को चुनौती दी थी. इससे पहले विश्वविद्यालयों में बहाली के लिए विश्वविद्यालय को एक ईकाई मान कर बहाली की जाती थी, लेकिन अब इसके प्रावधानों में यूजीसी ने फ़ेरबदल किए हैं.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने इसे लेकर निशाना साधते हुए ट्विटर पर लिखा है, “उच्च शिक्षा में SC,ST,OBC रिजर्वेशन खत्म होने और 13 प्वायंट रोस्टर लागू होने के बाद नौकरियों का पहला विज्ञापन आ गया है. इसमें एक भी पद SC,ST,OBC के लिए नहीं है. मनुवादियों ने चोर दरवाज़े से आरक्षण समाप्त कर दिया.”

राजद सुप्रीमो ने पूछा है कि क्या अब विश्वविद्यालयों में खाली पड़े तीन लाख पदों को इसी तरीके से भरा जाएगा?

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+