कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

पीटीआइ ने 300 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला, कर्मचारियों की ग़ैर मौजूदगी में लिया फ़ैसला

समाचार एजेंसी ने अभी तक इतने बड़े स्तर पर छंटनी का कारण स्पष्ट नहीं किया है।

देश की सबसे बड़ी समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्‍ट ऑफ इंडिया (पीटीआइ) ने अपने 300 कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से नौकरी से निकाल दिया है। 29 सितंबर को जारी एक सर्कुलर में पीटीआई ने यह फ़ैसला किया है। जिन लोगों की नौकरी गई है, उनमें अकेले दिल्ली के रहनेवाले अस्सी लोग हैं।

 मीडिया विजिल की एक रिपोर्ट के अनुसार पीटीआइ के मुख्‍य प्रशासनिक अधिकारी एमआर मिश्रा का कहना है कि प्रत्‍येक कर्मचारी को रजिस्‍टर्ड डाक से बर्ख़ास्‍तगी का पत्र भेज दिया गया है और उस पत्र में दी गई राशि को उनके बैंक खाते में जमा भी करवा दिया गया है। इस फ़ैसले के लिए पीटीआई ने शनिवार का दिन इसलिए चुना क्योंकि इस दिन ज़्यादातर कर्मचारी छुट्टी पर रहते हैं। आज ही पीटीआई बोर्ड की बैठक भी बुलाई गई है।

ग़ौरतलब है कि मीडिया में जॉब नहीं मिलने की वजह से पहले ही कितने-कितने पत्रकारों/कर्मचारियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में इस तरह का फ़ैसला उनके लिए बहुत निराशाजनक है। पीटीआई की तरफ़ से मिली जानकारी के अनुसार अभी इस फ़ैसले के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+