कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

मीडिया ने महाराष्ट्र की टूटी सड़क की तस्वीर को कर्नाटक के निप्पनी के रूप में प्रसारित किया

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

5 अगस्त को, बैंगलोर मिरर ने एक टूटी हुई सड़क की एक तस्वीर ट्वीट करते हुए बताया कि KSRTC ने पुष्टि की है कि कोल्हापुर, महाराष्ट्र की ओर जाने वाले सभी अंतरराज्यीय वाहनों को कर्नाटक के निप्पनी में रोक दिया गया है। यह ट्वीट रात 11:44 बजे किया गया था, जिसे अब इसे डिलीट कर दिया गया है।

बैंगलोर मिरर के ट्वीट से लगभग एक घंटे पहले, रात 10:52 बजे, इस मीडिया संगठन के मेट्रो एडिटर श्रीधर विवान ने समान तस्वीर और दावे को ट्वीट किया था। अब इस ट्वीट को भी डिलीट कर दिया गया है।

अगले दिन सुबह 8:18 बजे, ANI ने टूटी हुई सड़क की वही तस्वीर ट्वीट की जिसमें दावा किया गया कि यह स्थिति कर्नाटक के बेलगावी जिले में निप्पनी के पास राष्ट्रीय राजमार्ग-4 की है(आर्काइव)। उल्लेखनीय है कि बेलगावी में भारी बारिश के कारण बाढ़ आ गई है।

ANI के ट्वीट को ज़ी सलामटाइम्स ऑफ़ इंडिया और न्यूज़ 9 द्वारा इसके साझा होने के कुछ ही मिनट बाद प्रकाशित कर दिया।

मिरर नाउ ने भी ऐसी ही तस्वीर प्रकाशित की, जिसमें दावा किया गया है कि निप्पनी में भारी बारिश के कारण NH-4 में बड़ी दरार आ गई।

कर्नाटक नहीं, महाराष्ट्र की तस्वीर 

कई उपयोगकर्ताओं ने बताया कि यह तस्वीर मुंबई-नासिक एक्सप्रेसवे पर कसारा में ली गई थी,  कर्नाटक के निप्पनी में नहीं। इनमें से एक उपयोगकर्ता ने पुलिसकर्मी के पीछे एक दीवार पर दिखाई दे रहे एक रेस्तरां के विज्ञापन की ओर भी ईशारा किया, जिसमें लिखा था, “ग्रीन लैंड प्योर वेज।” यह मुंबई-नासिक हाईवे के इगतपुरी में स्थित एक रेस्तरां है।

ज़ी न्यूज़ हिंदी द्वारा प्रकाशित तस्वीरें उसी स्थान पर ली गईं थी लेकिन इसे अलग एंगल से लिया गया था। नीचे दी गई तस्वीर में, रेस्तरां के उसी विज्ञापन को देखा जा सकता है।

महाराष्ट्र टाइम्स और एबीपी माजा ने भी इस घटना की खबरें की थी।

मुख्यधारा के कुछ मीडिया संगठनों ने महाराष्ट्र में टूटी हुई सड़क की एक तस्वीर, कर्नाटक के रूप में साझा की। ऑल्ट न्यूज़ ने हाल ही में गुजराती मीडिया में महाराष्ट्र के हाटनूर बांध को वड़ोदरा के अजवा बांध के रूप में प्रसारित करने पर एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+