कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

झूठा दावा: तुर्की के हाईवे की फ़ोटो को मोदी सरकार का काम बताकर फ़ैलाया

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

“ये स्वीडन, स्विजरलैंड या यूरोप का नहीं बल्कि भारत का चित्र है मुंबई-गोवा राष्ट्रीय महामार्ग NH66 कशेडी घाट मेरा देश बदल रहा है , ….!
राष्ट्र नायक मोदीजी को धन्यवाद”

शानदार दिखने वाली एक सड़क की तस्वीर सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ शेयर की गई है कि यह मोदी सरकार के प्रयासों का परिणाम है। उपरोक्त संदेश फेसबुक ग्रुप आरएसएस(RSS) में पोस्ट किया गया है जिसे 700 से ज्यादा बार शेयर किया गया है।

यही तस्वीर थोड़े बदले हुए संदेश के साथ पोस्ट किया गया जिसमें कहा गया है, “उत्तर के एक्सप्रेस वे ओर पूर्वोत्तर के डबलडेकर पुलों के बाद अब पश्चिम भारत मुंबई-गोवा NH66 कशेडी घाट !! बताने की जरूरत नही है किसने किया …क्यो की वो तो यही कहेंगे मोदी ने क्या किया है।”

वोट फ़ॉर बीजेपीसंघ मित्रा और नमो फैन जैसे फेसबुक ग्रुपों के अलावा, यह तस्वीर ज्यादातर व्यक्तिगत सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा फेसबुक और ट्विटर पर शेयर किया जा रहा है।

तुर्की की तस्वीर

ऑल्ट न्यूज़ ने गूगल रिवर्स इमेज सर्च टूल का उपयोग करके पाया कि यह तस्वीर भारत के किसी सड़क की नहीं है। यह तुर्की की तस्वीर है।

यह तस्वीर मेर्सिन-अंताल्या हाईवे की है। मेर्सिन और अंताल्या, तुर्की के भूमध्यसागरीय तट पर स्थित शहर हैं। नीचे पोस्ट किया गया वीडियो इस हाईवे को दिखलाता है जिसे मुंबई-गोवा नेशनल हाईवे 66 के रूप में दर्शाया गया।

आधारभूत संरचनात्मक विकास के मामले में मोदी सरकार को बेहतर दिखाने के लिए, यह बार-बार इस्तेमाल की जाने वाली रणनीति है। इससे पहले, इंडोनेशिया में नवनिर्मित एक सड़क की तस्वीर को केंद्र सरकार के सड़क विकास के रूप में शेयर किया गया था।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+