कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

फ़ोटोशूट वाले मोदी जी का सफ़ाईकर्मियों का पांव धोना उनके घाव पर नमक रगड़ने जैसा है- सीतराम येचुरी

सीताराम येचुरी ने ट्वीट कर कहा कि,”साल 2018 में सीवर और सेप्टिक टैंक्स में 105 और 2019 में अबतक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. "

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के महासचिव सीताराम येचुरी ने प्रधानमंत्री मोदी की ओर से प्रयागराज में सफाईकर्मियों के पैर धोने को लेकर कड़ी आलोचना की है. सीपीएम प्रमुख ने कहा कि कैमरों के बीच पीआर फोटोशूट वाला मोदी का यह क़दम ऐतिहासिक अन्याय से जूझ रहे पीड़ितों के घावों पर नमक रगड़ने जैसा है.

सीताराम येचुरी ने ट्वीट कर कहा कि,”साल 2018 में सीवर और सेप्टिक टैंक्स में 105 और 2019 में अबतक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद भी इस गंभीर स्थिती के निवारण के लिए कुछ नहीं किया गया. वहीं, कई कैमरों के साथ पीआर फोटोशूट केवल ऐतिहासिक अन्याय से पीड़ित लोगों के घाव पर नमक रगड़ने जैसा है.”

दरअसल, प्रधानमंत्री रविवार को उत्तर प्रदेश के एक दिवसीय दौरे पर थे. इस दौरान उन्होंने स्वच्छ कुंभ, स्वचछ आभार कार्यक्रम की शुरूआत की. कार्यक्रम शुरू करने से पहले पीएम ने पांच सफाईकर्मियों के पैर धोए. पीएम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से इसपर कई तरह की प्रतिक्रियां आ रही है.

एकतरफ पीएम मोदी ने कहा कि सफाईकर्मियों के पैर धोने का यह पल उन्हें ज़िंदगी भर याद रहेगा. वहीं, विपक्ष इसे वोट बटोरने की राजनीति बता रहा है.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+