कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

अपने कोच आडवाणी को ‘मुक्का’ मारने वाले मोदी जी ने छोटे व्‍यापारियों और किसानों को भी पंच मारा है- राहुल गांधी

"बॉक्‍सर नरेंद्र मोदी को बेरोजगारी, किसानों की समस्‍या और भ्रष्‍टाचार से लड़ना था, लेकिन इसके बदले वह मुड़े और अपने कोच लाल कृष्‍ण आडवाणी जी और अपनी टीम को ही 'मुक्‍का' मार दिया"

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र हरियाणा के भिवानी ज़िला में पहुंचे. वहां राहुल ने भिवानी महेंद्रगढ़ लोकसभा कांग्रेस प्रत्याशी चौधरी के लिए प्रचार किया. साथ ही चुनावी सभा को संबोधित करते हुए वर्तमान केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है.

जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि,बॉक्‍सर नरेंद्र मोदी को बेरोजगारी, किसानों की समस्‍या और भ्रष्‍टाचार से लड़ना था, लेकिन इसके बदले वह मुड़े और अपने कोच लाल कृष्‍ण आडवाणी जी और अपनी टीम को ही ‘मुक्‍का’ मार दिया. इसके बाद बॉक्‍सर मोदी भीड़ में गए और छोटे व्‍यापारियों और किसानों को पंच मारा.

संबोधन के बीच ही राहुल ने चौकीदार का नारा लगाया और लोगों ने कहा कि ‘चोर है.’ राहुल ने कहा कि, चौकीदार ने देश के जनता, ग़रीब, किसानों से पैसे लूटकर अनिल अंबानी की जेब में डाल दिया.

राहुल गांधी ने कहा कि, नाव के बाद देश में कांग्रेस की सरकार बनने पर पैरामिलिट्री फोर्स में काम करने वाले सैनिकों को दुर्घटना होने पर शहीद का दर्जा नहीं दिया जाता। कांग्रेस की सरकार आने पर उन्हे आर्मी के सैनिकों की तर्ज पर शहीद का दर्जा दिया जाएगा.” ज्ञात हो कि भिवानी, महेंन्द्रगढ़ व दादरी ज़िलों से बड़ी संख्या में लोग पैरामिलिट्री फोर्स में कार्यरत हैं.

मोदी सरकार पर हमला करते हुए राहुल ने कहा कि,“वह दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का झूठा वादा नहीं करेंगे. बल्कि,22 लाख युवाओं को सत्ता में आने के एक साल के अंदर सरकारी नौकरी देंगे.साथ ही पंचायतों में हरियाणा के 10 लाख युवाओं को रोजगार देंगे.”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि, इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि बिहार के नए उद्यमियों को अपना बिजनेस स्टार्ट करने से पहले परमिशन की आवश्यकता नहीं होगी.तीन साल के लिए आपको किसी भी परमिशन से छूट मिलेगी. इसके बाद तीन साल तक अपना बिजनेस सेट अप करने के बाद आप लाइसेंस लेंगे.

गांधी ने कहा कि मोदी जी ने आपके खाते में 15 लाख रुपए देने का झूठा वादा किया था. लेकिन, कांग्रेस आपको न्याय योजना के तहत 72 हज़ार का सच देगी.देश के 20 प्रतिशत ग़रीब परिवारों के खाते में अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाए बगैर हर साल 72 हजार यानी पांच साल में 3 लाख 60 हजार रुपए भेजे जाएंगे.न्याय योजना की राशि सीकर के ग़रीब महिलाओं के खाते में जाएगी.

उन्होंने कि, मोदी जी ने नोटबंदी और जीएसटी लागू किया, लोगों के जेब से पैसा निकाला.जिसके कारण लोगों ने माल खरीदना बंद किया, फैक्ट्रियां बंद हुई. न्याय योजना देश के ग़रीबों के बैंक खाते में सीधे पैसा डालेगी.इस पैसे से लोग सामान खरीदेंगे, इसके बाद उत्पादन बढ़ेगा और फैक्ट्रियां चालू हो जाएंगी. इसके साथ ही फैक्ट्रियों के चालू होने से देश के युवाओं को रोज़गार मिलने लगेगा.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+