कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

पाकिस्तानी मीडिया ने 2016 की तस्वीर का इस्तेमाल ‘मार गिराया IAF लड़ाकू जेट’ दिखलाने के लिए किया

ऑल्ट न्यूज़ की पड़ताल

खबरों के अनुसार, पाकिस्तानी लड़ाकू जेट 27 फरवरी को भारतीय वायु सीमा में जम्मू-कश्मीर में घुसे, लेकिन भारतीय वायुसेना द्वारा खदेड़ दिए गए. मगर पाकिस्तानी मीडिया ने विवादित रूप से दावा किया कि भारतीय लड़ाकू विमान उनके देश की हवाई सीमा में दाखिल हुए और पाकिस्तानी वायुसेना द्वारा मार गिराए गए. पाकिस्तानी मीडिया, भारतीय वायुसेना के जेट विमानों को मार गिराने का प्रसारण कर रही है और एक स्थानीय न्यूज़ चैनल ARY न्यूज़ ने मार गिराए गए विमान की तस्वीर दिखलाई. इस पर ट्विटर यूजर सचिन सिंह द्वारा ध्यान में लाया गया.

 

एक अन्य समाचार संगठन ग्रासलैंड टाइम्स ने भी वही तस्वीर चलाई.

 

जोधपुर में 2016 में दुर्घटनाग्रस्त हुए लड़ाकू विमान की तस्वीर

ARY न्यूज़ द्वारा दिखलाई गई तस्वीर पुरानी, 2016 की है, जब लड़ाकू विमान मिग-27 राजस्थान के जोधपुर में एक इमारत से टकरा गया था। इस पर भी सचिन सिंह ने ध्यान दिलाया.

 

इस दुर्घटनाग्रस्त विमान की विभिन्न कोणों से ली गई तस्वीरें मीडिया में भी उपलब्ध हैं. अगर कोई ध्यान से देखे तो विमान का नंबर — TU657 — वही है.

 

दिन में पहले, पाकिस्तानी सूचना तंत्र में प्रसारित हो रही एक और गलत खबर की ऑल्ट न्यूज़ ने जानकारी दी. पाकिस्तानी सोशल मीडिया यूजर्स ने बेंगलुरु के एयर शो में घायल पायलट का वीडियो, हालिया अशांति में घायल भारतीय वायुसेना के पायलट के रूप में शेयर किया.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+