कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

एक तरफ़ नफ़रत, हिंसा और 5 साल का अन्याय, दूसरी तरफ़ भाईचारा प्रगति और “न्याय”: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा, “कांग्रेस लोगों को जोड़ने, विकास और रोज़गार देने की बात करती है. वहीं भाजपा, आरएसएस, नरेंद्र मोदी देश को तोड़ने की बात करते हैं, नफरत फैलाते हैं.”

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज कर्नाटक के कोलार में चुनावी रैली को संबोधित करने पहुंचे. इस दौरान राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर वादाख़िलाफ़ी करने का आरोप लगाया और कहा कि चौकीदार 100 फीसदी चोर है.  उन्होंने कहा कि  एक तरफ नफ़रत, क्रोध, बंटवारा, हिंसा है, दूसरी तरफ प्यार, भाईचारा, प्रगति है. एक तरफ 5 साल का अन्याय है, दूसरी तरफ “न्याय” है.

चौकीदार चोर है

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “देश के हर चोर के नाम में मोदी-मोदी कैसे है. उन्होंने एक बार फिर दोहराया चौकीदार चोर है और 100 फीसदी चोर है. नीरव मोदी, ललित मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या चोरों का गुप्र है, चोरों की टीम है. मोदी देश की जनता से पैसा छिनकर इन 15 लोगों को देते हैं.”

लोकसभा चुनाव में दो विचारधारा की लड़ाई

राहुल गांधी ने कहा, “चुनाव में दो विचारधारा की लड़ाई है. कांग्रेस लोगों को जोड़ने व विकास और रोज़गार देने की बात करती है. वहीं भाजपा, आरएसएस, नरेंद्र मोदी देश को तोड़ने की बात करते हैं, नफरत फैलाते हैं.”

मोदी सरकार ने की वादख़िलाफ़ी

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, मोदी सरकार ने 5 साल में तीन वादा किया. 2 करोड़ युवाओं को रोज़गार, 15 लाख बैंक खाते में और किसानों को फसल का सही मूल्य. लेकिन, चुनाव के बाद भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 15 लाख का वादा जुमला था और अब मोदी की भाषण में रोज़गार और किसानों की बात तक नहीं होती है. यहां तक की उनके घोषणापत्र में भी रोज़गार के बारे में कुछ नहीं है.

कांग्रेस की न्याय योजना

उन्होंने कहा, “कांग्रेस की सरकार गरीबों को पैसा देगी. गरीबों के खाते में हर साल 72 हजार रुपए यानी पांच सालों में 3 लाख 60 हजार रुपए भेजे जाएंगे.”

राहुल गांधी ने कहा, “वे (भाजपा) पूछते हैं कि पैसे कहां से आएंगे? मोदीजी मैं आपको बताता हूं. पैसा अंबानी जैसे आपके दोस्त की जेब से आएंगे. नीरव मोदी, ललित मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या की जेब से आएंगे.”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “एक तरफ नफ़रत, क्रोध, बंटवारा, हिंसा है, दूसरी तरफ प्यार, भाईचारा, प्रगति है. एक तरफ 5 साल का अन्याय है, दूसरी तरफ “न्याय”, एक तरफ 15-20 लोगों का फायदा है, दूसरी तरफ लाखों-करोड़ों किसान, मजदूर, युवाओं के हितों की बात है.

कालेधन के ख़िलाफ़ नोटबंदी दिखावा

राहुल गांधी ने कहा, “ पीएम मोदी मन की बात करते हैं लेकिन हम काम की बात करते हैं. कालेधन के ख़िलाफ़ लड़ाई के लिए नोटबंदी का दिखावा किया गया. फिर नीरव मोदी आपके 35000 हजार करोड़ ले कर भाग गया. नोटबंदी ने छोटे व्यापारियों को नष्ट किया.”

गब्बर सिंह टैक्स जीएसटी

राहुल गांधी ने कहा, “गब्बर सिंह टैक्स लगाकर देश को लूटा. कांग्रेस पार्टी सत्ता में आते ही गब्बर सिंह टैक्स को जीएसटी में बदल देंगे और सिर्फ एक टैक्स होगा.”

45 साल में बेरोज़गारी चरम पर 

उन्होंने आरोप लगाया, “मोदी सिर्फ वादा करते हैं. आज देश में 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोज़गारी है. हिंदुस्तान में 24 घंटे में 27 हजार युवा  रोज़गार ढूंढ रहे हैं. मोदी सरकार ने देश के युवाओं के लिए कुछ भी नहीं किया.”

मोदी अमीरों को देते हैं तव्वज़ों

राहुल गांधी ने कहा, “ मोदी अनिल अंबानी को गले लगाते हैं किसानों को क्यों नहीं?  नीरव मोदी के साथ फोटो लेते हैं किसानों के साथ क्यों नहीं?”

सत्ता में आने के बाद जनता को दी जाने वाली सुविधाएं

राहुल ने कहा, “कांग्रेस सत्ता में आते ही किसानों के लिए बजट बनाएगी. नेशनल बजट के साथ किसान का अलग बजट पेश होगा. किसानों को लोन नहीं चुकाने पर जेल की सजा नहीं दी जाएगी, 22 लाख सरकारी नौकरियों के खाली पद एक साल में भरे जाएंगे और  पंचायत में 10 लाख युवाओं को रोज़गार दिया जाएगा.

कांग्रेस अध्यक्ष ने वादा किया, कांग्रेस की सरकार बनने पर  युवाओं को बिजनेस शुरू करने के लिए तीन साल तक कोई अनुमति नहीं लेनी पड़ेगी. महिलाओं को लोकसभा, विधानसभा और सरकारी नौकरियों में 33 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+