कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

करोड़ों के विज्ञापन के लिए भाजपा के पास कहां से पहुंच रहे हैं पैसे?: राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

"टीवी पर 30 सेकंड का विज्ञापन या अख़बारों में विज्ञापन छपवाने में लाखों रुपए खर्च होते हैं, इसके लिए भाजपा को कहां से पैसे मिल रहे हैं? यह पैसे मोदी जी के पॉकेट से तो नहीं आ रहे हैं."

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी और भारतीय जनता पार्टी के आय के स्त्रोत पर गंभीर सवाल उठाए हैं. सोमवार को फ़तेहपुर सीकरी में एक सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि टीवी पर 30 सेकंड का विज्ञापन करने में लाखों रुपए ख़र्च होते हैं, इसके लिए भाजपा के पास पैसे कहां से आ रहे हैं.

कांग्रेस उम्मीदवार राज बब्बर के समर्थन में रैली करते हुए राहुल गांधी ने कहा, “हर जगह नरेन्द्र मोदी की पब्लिसिटी की जाती है. इसके लिए पैसे कहां से आते हैं? टीवी पर 30 सेकंड का विज्ञापन करने में या अख़बारों में विज्ञापन छपवाने में लाखों रुपए खर्च होते हैं, इसके लिए भाजपा को कहां से पैसे मिल रहे हैं? यह पैसे मोदी जी के पॉकेट से तो नहीं आ रहे हैं.”

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने जनता के पैसे को चोरी करके नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, ललित मोदी और विजय माल्या जैसे लोगों के जेब में डाले हैं.

प्रधानमंत्री मोदी के झूठे वादों को याद दिलाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी ने युवाओं को दो करोड़ रोज़गार देने का झूठा वादा किया. इसके साथ ही मोदी जी ने देश की जनता के साथ झूठ बोला कि सबके बैंक खाते में 15 लाख रुपए जमा कराए जाएंगे.

राहुल गांधी ने कहा, “मोदी जी ने इस देश के किसानों को बर्बाद किया है. झूठे वादे करके उन्होंने सत्ता हासिल की है. हम आपके बैंक अकाउंट में 15 लाख रुपए भेजने का वादा नहीं करेंगे, बल्कि हम एक असली नंबर देंगे. हम हर साल ग़रीब परिवारों के बैंक खातों में 72,000 रुपए जमा कराएंगे.”

न्याय योजना के बारे में बताते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इसे देश के जाने माने अर्थशास्त्रियों की देखरेख में बनाया गया है. उन्होंने कहा, “जब हम न्याय योजना की बात करते हैं, तो मोदी जी पूछते हैं कि इसके लिए पैसे कहां से आएंगे. हम आपसे बताना चाहते हैं कि यह पैसा मिडिल क्लास लोगों की जेब से नहीं लिया जाएगा. इसकी फंडिंग के लिए इनकम टैक्स को नहीं बढ़ाया जाएगा. इस पैसे को अनिल अंबानी, मेहुल चौकसी, नीरव मोदी जैसे लोगों की जेब से निकाला जाएगा.”

रोज़गार के सवाल पर मोदी सरकार को घेरते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी के शासन में देश में बेरोज़गारी 45 सालों में सबसे अधिक बढ़ी है. कांग्रेस की सरकार बनने के एक साल के भीतर खाली पड़े सरकारी नौकरियों के 22 लाख पदों को भरने का वादा भी राहुल गांधी ने किया.

पीटीआई इनपुट्स पर आधारित

न्यूज़सेंट्रल24x7 को योगदान दें और सत्ता में बैठे लोगों को जवाबदेह बनाने में हमारी मदद करें
You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+