कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

मेरे ख़िलाफ़ झूठ फैलाने वालों की गिरफ़्तारी हो तो चैनलों में हो जाएगी स्टाफ की कमी, जेल में बंद पत्रकारों को रिहा करे योगी सरकार: राहुल गांधी

उत्तर प्रदेश पुलिस ने द वायर के पूर्व पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया सहित नोएडा के नेशन लाइव चैनल के दो पत्रकारों को गिरफ़्तार किया है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा पत्रकारों की गिरफ़्तारी पर योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोला है तथा गिरफ़्तार किए गए पत्रकारों की जल्द से जल्द रिहाई की मांग की है.

राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा है, “अगर मेरे ख़िलाफ़ आरएसएस/बीजेपी द्वारा प्रायोजित प्रोपगैंडा, फ़ेक न्यूज़ और ग़लत रिपोर्ट फ़ैलाने के लिए पत्रकारों को गिरफ़्तार किया जाए तो ज्यादातर अख़बार और टीवी चैनलों में स्टाफ की कमी पड़ जाएगी. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री मूर्खतापूर्ण बर्ताव कर रहे हैं और गिरफ़्तार पत्रकारों को जल्द से जल्द रिहा करने की जरूरत है.”

बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने द वायर के पूर्व पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया सहित नोएडा के नेशन लाइव चैनल के दो पत्रकारों को गिरफ़्तार किया है. प्रशांत कन्नौजिया ने एक महिला का विडियो सोशल मीडिया पर साझा किया था, जिसमें महिला ने दावा किया था कि योगी आदित्यनाथ उससे विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए बात करते हैं और वह अब उनसे अपने रिश्ते के भविष्य के लिए बात करना चाहती है.

इसी विडियो को नेशन लाइव चैनल ने एक चर्चा आयोजित किया था, जिसके कारण उसके मालिक और संपादक को गिरफ़्तार किया गया है. हालांकि चैनल पर आरोप है कि वह ग़ैर कानूनी तरीके से प्रसारित किया जा रहा था.

बता दें कि प्रशांत कन्नौजिया सहित अन्य पत्रकारों की गिरफ़्तारी के ख़िलाफ़ देश के जाने माने बुद्धिजीवियों और पत्रकारों ने बीते सोमवार को दिल्ली में प्रेस क्लब ऑफ इंडिया से संसद भवन तक विरोध मार्च निकाला था. इन पत्रकारों की गिरफ़्तारी की देशभर में आलोचना की जा रही है.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+