कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

हक़ पाने का सितम: सबरीमला मंदिर में प्रवेश करने वाली महिला को ससुराल वालों ने घर से निकाला

इससे पहले सास द्वारा उनकी पिटाई किए जाने की ख़बर सामने आई थी.

सबरीमला मंदिर में प्रवेश करने वाली महिला कनक दुर्गा की मुश्किलें कम नहीं हो रहीं. हाल ही में सास द्वारा पिटाई की ख़बर सामने आने के बाद अब ससुराल वालों ने उन्हें घर से निकाल दिया है. फिलहाल उन्हें एक सरकारी आश्रय गृह में रखा गया है.

कनक दुर्गा को तिरुवनंतपुरम स्थित उनके घर से  ससुराल वालों ने निकाल दिया. जनसत्ता के मुताबिक मंगलवार को उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज़ कराई है.

इससे पहले उन्होंने अपनी सास द्वारा मारपीट किए जाने का आरोप लगाया था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. ख़बरों के मुताबिक कमन दुर्गा जब पुलिस के साथ अपने ससुराल पहुंची तो उनके पति और सास घर के अन्य सदस्यों को लेकर बाहर चले गए और घर में ताला मार दिया. इसके बाद पुलिस ने उन्हें एक सरकारी आश्रय गृह में ठहराया है. कनक दुर्गा केरल के सबरीमला मंदिर में अयप्पा का दर्शन करने वाली पहली महिला हैं. सर्वोच्च न्यायालय ने कनक को 24 घंटे पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने के आदेश केरल सरकार को दिए हैं.

बीते साल सुप्रीम कोर्ट द्वारा सबरीमला मंदिर में महिलाओं को प्रवेश मिलने की अनुमति के बावजूद भी उन्हें प्रवेश नहीं मिल पा रही है. हिन्दुवादी कट्टरपंथी ताकतों के विरोध के कारण यह समस्या आ रही है.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+