कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

झूठ: कश्मीर में ख़ुशियां और शांति है, सच: श्रीनगर में 10,000 लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन-सुरक्षा बलों ने बरसाए आंसू गैस के गोले

अनुच्छेद 370 में किए गए संशोधन के बाद जम्मू-कश्मीर में धारा 144 लगा दी गई है. इसके साथ ही संचार के सारे साधन को बंद कर दिया गया है.

अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में पहला सामूहिक प्रदर्शन की ख़बर सामने आई है. शुक्रवार को दोपहर कार्फ्यू के बावजूद लगभग 10,000 लोग सड़क पर उतर आएं. सुरक्षा बलों को स्थिति नियंत्रण करने के लिए आंसू गैस के गोले के साथ हवाई फायरिंग करनी पड़ी.

अलजज़ीरा की एक रिपोर्ट के अनुसार कुछ प्रदर्शनकारियों ने हाथ में काले झंडे थे, जो अनुच्छेद 370 हटाने के ख़िलाफ़ नारा लगा रहे थे. रॉयटर्स न्यूज़ एजेंसी  को एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 10,000 प्रदर्शनकारियों की भीड़ श्रीनगर के सौरा इलाक़े में इकट्ठा हुई थी, जिन्हें फिर वापस अइवा पुल के तरफ़ ले जाया गया.

बता दें कि अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर में धारा 144 लगा दी गई है. इसके साथ ही संचार के सारे साधन को बंद कर दिया गया है. जम्मू-कश्मीर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती और उमर अब्दुल्ला की भी गिरफ्तारी की गई है.

इसे भी पढ़ें- भाजपा सांसद जायमांग जिस कारगिल में जश्न का माहौल बता रहे हैं, वहां की दुकानें बंद तो सड़कें सूनी

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+