कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

श्रीनगर के पांच थाना क्षेत्रों में धारा-144 लागू

बुधवार को अलगावादियों ने घोषणा की थी कि वे ज्वाइंट रेसिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) के बैनर तले गुरूवार को कश्मीर घाटी में हड़ताल करेंगे।

श्रीनगर के कई हिस्सों में गुरूवार को अधिकारियों ने अलगाववादियों द्वारा बुलाए गए बंद के मद्देनजर एहतियात के तौर पर निषेधाज्ञा लागू की। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शहर के पांच थाना क्षेत्रों में सीआरपीसी की धारा-144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है। उन्होंने बताया कि यह बंदिशें नौहाटा, खान्यार, रैनावारी, साफाकदल, और एम. आर. गंज में लागू की गई हैं।

अधिकारी ने बताया कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए एहतियात के तौर पर यह बंदिशें लागू की गईं। अलगावादियों ने बुधवार को घोषणा की थी कि वे ज्वाइंट रेसिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) के बैनर तले गुरूवार को कश्मीर घाटी में हड़ताल करेंगे। बुधवार की सुबह पुराने श्रीनगर के फतह कदल में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों के मारे जाने के बाद हड़ताल का आह्वान किया गया।

अधिकारियों ने बताया कि हड़ताल के कारण शहर की ज्यादातर दुकानें, पेट्रोल पंप और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक परिवहन सड़कों से नदारद रहे जबकि कुछ इलाकों में निजी कारें, कैब और ऑटो जरूर नजर आए। उन्होंने कहा कि घाटी के अन्य जिला मुख्यालयों से भी हड़ताल से जुड़ी कमोबेश ऐसी ही खबरें आ रही हैं। श्रीनगर में मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गई है जबकि कुछ जिलों में नेटवर्क की स्पीड कम कर दी गई है।

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+