कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

रमन ‘राज’ में बिना प्रशासनिक अनुमति के चल रहे हैं कई आश्रम, मासूम जिंदगियों के साथ हो रहा है खिलवाड़

प्रशासन को भी इन आश्रमों की नहीं है भनक, अधिकारी जांच के नाम पर जिम्मेदारियों से झाड़ रहें पल्ला

कांकेर: रमन’राज’ में राज्य के कई ज़िलों के अंदरूनी इलाकों में बिना प्रशासन की अनुमति के ही प्राइवेट संस्था और आश्रम चलाए जा रहे हैं। इन आश्रमों में पैसे ऐंठने के लिए मासूमों की ज़िंदगी के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। यहाँ बच्चों से जबरन काम लिया जाता है और काम पूरा होने के बाद उन्हें खाना भी नहीं दिया जाता।

कुछ दिन पहले ही कांकेर ज़िला के बांदे इलाके के जुनावर में एक मामला सामने आया था। बिना अनुमति के चलाए जा रहे एक आश्रम ‘अमर ज्योति’ में पांच दिनों से बीमार एक नाबालिग बच्चे की इलाज के अभाव में मौत हो गई। मौत के बाद ही प्रशासन को मालूम चला कि इस इलाके में अमर ज्योति नाम का एक आश्रम भी है।

ईनाडु की एक रिपोर्ट के अनुसार बच्चे के स्वास्थ्य के साथ बहुत लापरवाही की गई। उसके खाने में छिपकली पायी गई। ये सारी तस्वीरे एक कैमरे की फुटेज में कैद है। आश्रम के छात्रों ने बताया कि उनसे खेती कराया जाता है। काम पूरा होने पर उन्हें खाना भी नहीं दिया जाता है।

इस मौत की घटना के बाद प्रशासन ने आनन-फानन में जांच का आदेश दे दिया। जांच के बाद कार्रवाई की बात की जा रही है पर अब तक किसी पर कानूनी कार्रवाई की प्रक्रिया प्रारंभ भी नहीं की गई है। उधर आश्रम की पोल खुलने के बाद संचालक बच्चों को उनके घरों पर भेजने में लगा है।

न्यूज़सेंट्रल24x7 को योगदान दें और सत्ता में बैठे लोगों को जवाबदेह बनाने में हमारी मदद करें
You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+