कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

रेप का आरोपी अब भी है भाजपा का विधायक और ‘भयमुक्त उत्तर प्रदेश’ अभियान के प्रचार में जुटी है राज्य सरकारः प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी सरकार से सवाल किया, "क्या नागरिकों के प्रति राज्य सरकार की कोई जिम्मेदारी नहीं है."

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुई सड़क दुर्घटना को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाधा साधा है. प्रियंका गांधी ने इसे चौंकाने वाली घटना करार देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चार सवाल किए हैं. उन्होंने पूछा है कि क्या भाजपा सरकार से न्याय की उम्मीद की जा सकती है?

प्रियंका गांधी ने सीबीआई की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए पूछा, “इस केस की सीबीआई जांच कहां तक पहुंची हैं?”

उन्होंने दूसरा सवाल सुरक्षा को लेकर पूछा, “पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में चूक क्यों हुई.” बता दें कि एक गनर और दो महिला कांस्टेबल पर पीड़ितों की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी थी लेकिन इस हादसे के वक्त पीड़ित के साथ कोई भी मौजूद नहीं था.

प्रियंका गांधी ने तीसरा सवाल आरोपी विधायक को भाजपा का हिस्सा बनाए रखने पर उठाया और कहा, “आरोपी विधायक अभी तक भाजपा में क्यों हैं?”

कांग्रेस महासचिव ने चौथा सवाल करते हुए कहा, “क्या इन सवालों के जवाब दिए बिना भाजपा सरकार से न्याय की कोई उम्मीद की जा सकती है?”

प्रियंका गांधी ने इस मामले पर संदेह जताते हुए अगले ट्वीट में लिखा, “एक महिला का कथित तौर पर भाजपा विधायक द्वारा बलात्कार किया जाता है. उसके पिता को पिटा जाता है और हिरासत में उनकी मौत हो जाती है. वहीं एक मुख्य गवाह की पिछले साल रहस्यमयी तरीके से मौत हो गई. अब उसकी चाची जो एक गवाह भी थी को मार दिया गया. एक काले रंग के नंबर प्लेट वाले ट्रक ने दुर्घटना में उनके वकील को गंभीर रूप से घायल कर दिया है.”

उन्होंने आगे लिखा, “खुद पीड़िता इस दुर्घटना के कारण गंभीर रूप से घायल हालात में अस्पताल में भर्ती है. आरोपी अब भी बीजेपी का विधायक है. इन सभी हालातों के बावजूद राज्य सरकार ‘भयमुक्त उत्तर प्रदेश’ अभियान के दुस्साहसिक प्रचार में जुटी है.”

प्रियंका गांधी ने एक अन्य ट्वीट में योगी सरकार से सवाल करते हुए कहा, “क्या राज्य सरकार की अपने नागरिकों के प्रति कोई जिम्मेदारी नहीं है या यह कभी उसके एजेंडे का विषय नहीं रहा है.”

बता दें कि गैंगरेप पीड़ित महिला रायबरेली जेल में अपने चाचा महेश सिंह से मुलाकात करने जा रही थी. तभी रायबरेली स्थित गुरबख्श गंज इलाके में एक ट्रक से उनकी गाड़ी टकरा गई. जिसमें महिला की चाची, मौसी और ड्राइवर की मौत हो गई. वहीं पीड़िता गंभीर रूप से घायल है. भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप है कि उन्होंने घायल महिला के साथ बलात्कार किया था. साल 2018 के बाद कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाई अतुल सिंह जेल में बंद हैं.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+