कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

उत्तर प्रदेश में पुलिस की गुंडागर्दी: रेस्तरां में मचाई तोड़फोड़, अभद्रता का भी लगा आरोप

जिस रेस्तरां में तोड़-फोड़ की गई है, वह भाजपा नेता त्रयंबक सिंह के छोटे भाई की है।

उत्तर प्रदेश पुलिस देश में गुंडागर्दी की नई इबारत लिख रही है। कभी पुलिसकर्मियों पर डकैती का मुकदमा दर्ज़ किया जाता है, तो कभी फ़र्ज़ी मुठभेड़ कर वह खुद चर्चा में रहती है। अबकी बार आरोप लगा है कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने लखनऊ के एक रेस्तरां में तोड़फोड़ मचाकर रेस्तरां के मालिक से अभद्रता की है।

गुरुवार रात पुलिस अधिकारी राजेश सिंह अपने परिवार के साथ गाड़ी से कहीं जा रहे थे। तभी एक कार वाले ने उनकी कार को टक्कर मार दी और फ़रार हो गया। उक्त कार सवार की तलाश करते हुए एसएसपी साहब रेस्तरां पहुंचे और वहां के कर्मचारी को थप्पड़ मारकर सीसीटीवी फुटेज़ दिखाने को कहा। यही नहीं एसएसपी ने फ़ोन करके गोमती नगर पुलिस को मौके पर बुलाया। रेस्तरां कर्मचारियों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने उनके साथ अभद्रता और उनके रेस्तरां में तोड़-फोड़ की है।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार जिस रेस्तरां में तोड़-फोड़ की गई है, वह भाजपा नेता त्रयंबक सिंह के छोटे भाई का है। त्रयंबक सिंह ने एसएसपी कलानिधि नैथानी को फ़ोन पर घटना की सूचना दी। उन्होंने फ़ोन पर यह भी आशंका जताई कि पुलिस वाले विवेक तिवारी की तरह उनकी भाई की भी गोली मारकर हत्या कर सकते हैं। साथ ही त्रयंबक सिंह ने राजेश सिंह के ख़िलाफ़ गोमतीनगर थाने में शिकायत दर्ज़ करवाने की बात भी कही है।

वहीं इस मामले में गोमतीनगर पुलिस का कहना है कि फिलहाल उन्हें कोई शिकायत नहीं मिली है। शिकायत दर्ज़ होने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी। दूसरी ओर एसएसपी ने कहा कि उन्हें इस विषय में शिकायत मिली है और मामले की जांच की जा रही है। दोषी पाने पर पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी।

इसे भी पढ़ें-  विवेक तिवारी हत्या मामले की चश्मदीद बोलीं- उत्तर प्रदेश पुलिस ने विवेक को निर्ममता से गोली मारी

 

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+