कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

भारत पाकिस्तान में युद्ध हुआ तो नष्ट हो सकती है दुनिया, वैज्ञानिक ब्रायन टून ने बताए कारण, देखें विडियो

ब्रायन टून ने बताया कि भारत-पाकिस्तान युद्ध की वजह से हम मक्का, गेहूं और चावल की पैदावार का 10 से 40 प्रतिशत तक खो देंगे.

भारत-पाकिस्तान सीमा पर मौजूदा समय में युद्ध जैसी स्थिति पैदा हो रही है. दोनों देश अलग-अलग स्तर पर एक-दूसरे को जवाब दे रहे हैं. ऐसे में वायुमंडलीय वैज्ञानिक ब्रायन टून बताते हैं कि कैसे एक छोटा सा परमाणु युद्ध भी पृथ्वी पर सभी के जीवन को नष्ट कर सकता है.

वैज्ञानिक ब्रायन टून ने बताया कि अगर भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध की स्थिति पैदा होती है तो दुनिया को किस प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ेगा. ब्रायन टून जलवायु परिवर्तन के लिए यू.एन. के नोबेल शांति पुरस्कार में योगदान दे चुके हैं और कई वैज्ञानिक पुरस्कार जीत चुके हैं, जिसमें असाधारण वैज्ञानिक उपलब्धि के लिए दो नासा पदक शामिल हैं.

ब्रायन टून ने बताया कि अगर भारत और पाकिस्तान में परमाणु युद्ध होता है, तो पूरी दुनिया को भयानक परिणाम भुगतने होंगे. यदि परमाणु हमला होता है, तो उसका धुंआ दो सप्ताह के भीतर दुनिया भर में फैल जाएगा. पर्यावरण में बदलाव की वजह से मक्का, गेहूं और चावल की फ़सल की पैदावार नहीं होगी. यह धुंआ वर्षों तक रहेगा.

उन्होंने कहा कि यूरोप और अमेरिका के किसान पाकिस्तान और भारत से हजारों मील की दूरी पर, धुएं के रंग का आकाश देखेंगे और रोशनी व ठंडे तापमान की कमी से उसके खेत की फसलें मर जाएगी.

यह अनुमान है कि भारत और पाकिस्तान के युद्ध के कारण आने वाले सालों के लिए हम मक्का, गेहूं और चावल की पैदावार का 10 से 40 प्रतिशत तक खो देंगे.

पूरी दुनिया में सिर्फ 60 दिनों के लिए सभी लोगों को भोजन खिलाने के लिए पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है. परमाणु हमले के कारण विश्व के सभी देशों की खेती प्रभावित होगी और पूरी दुनिया को इससे नुक़सान होगा. एक अनुमान के अनुसार भारत-पाकिस्तान के बीच परमाणु युद्ध के कारण 1 से 2 बिलियन लोग भुखमरी के कारण मर जाएंगे.

ब्रायन टून ने कहा कि एक परमाणु युद्ध के बाद, तापमान हिमयुग की तुलना में नीचे गिर जाएगा. हम एक परमाणु सर्दियों में होंगे. ऐसे तापमान में फसल की कोई पैदावार नहीं होगी. यह अनुमान है कि पृथ्वी की आबादी का 90 प्रतिशत आबादी भुखमरी का शिकार हो जाएगी और सभ्यता नष्ट हो जाएगी. कोई भी सुरक्षित नहीं होगा.

उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान में अगर युद्ध होता है तो कोई भी दूसरा देश इससे दूर नहीं रह सकता है. जिन देशों के पास परमाणु ऊर्जा नहीं है. वे भी इस युद्ध से प्रभावित होंगे.

ग़ौरतलब है कि भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति उस वक्त बन गई जब पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने भारतीय सीमा में घुसकर भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की. लेकिन, भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तानी विमानों को खदेड़ दिया था.

इसी कार्रवाई में भारत का एक मिग-21 विमान क्रैश हो गया, जिसके पायलट अभिनंदन सिंह को पाकिस्तान ने बंदी बनाकर रखा है.

न्यूज़सेंट्रल24x7 को योगदान दें और सत्ता में बैठे लोगों को जवाबदेह बनाने में हमारी मदद करें
You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+