कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

राहुल गांधी ने संसद में महिला आरक्षण के लिए कांग्रेस गठबंधन सरकारों को लिखा पत्र, समर्थन देने की कही बात

राहुल गांधी ने कहा कि असली सशक्तिकरण में यह शामिल है कि विधायी निकायों में पर्याप्त संख्या में महिलाओं का प्रतिनिधित्व किया जाता है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा सहित विधानसभा में महिलाओं के लिए एक तिहाई सीट आरक्षित करने के लिए राज्य के कांग्रेस/कांग्रेस गठबंधन सरकारों का पत्र लिखा है.

अपने पत्र में राहुल गांधी ने लिखा, “संसद में महिलाओं के प्रतिशत में हमारा भारत 193 में से 148वें स्थान पर है. राज्य विधानसभाओं में तो यह स्थिति और भी बदतर है.” उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि असली सशक्तिकरण में यह शामिल है कि विधायी निकायों में पर्याप्त संख्या में महिलाओं का प्रतिनिधित्व किया जाता है.

बिल पारित होने के लिए कांग्रेस पार्टी के समर्थन की पुष्टि करने के लिए राहुल गांधी ने लिखा था कि “लोकसभा में महिलाओं के लिए एक तिहाई सीटों और महिलाओं के लिए विधानसभाओं को आरक्षित करने के लिए अगले सत्र में एक प्रस्ताव पारित करना उपयुक्त होगा.”

4 दिसंबर को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यह सुनिश्चित करने के लिए आग्रह किया कि महिला आरक्षण विधेयक – राज्य विधान सभाओं और संसद में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण संसद में पारित किया गया है.

You can also read NewsCentral24x7 in English.Click here
+